हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करना है तो अदरक से बनी इन चीजों का करें सेवन

हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करना है तो अदरक से बनी इन चीजों का करें सेवन

आजकल की व्यस्त जीवनशैली में अधिकतर लोग हाइपरटेंशन के मरीज होते जा रहे हैं। ऐसा इसलिए भी हैं क्योंकि खराब खानखान और खराब स्लीपिंग पैटर्न लोगों की दैनिक दिनचर्या का हिस्सा हो गया है।

ब्लड प्रेशर वह मापक होता है जो दर्शाता है कि खून का प्रवाह किस गति से हो रहा है। हाई ब्लड प्रेशर इसीलिए एक गंभीर समस्या है क्योंकि इसमें आपका हार्ट सामान्य से ज्यादा तीव्र गति से काम करने लगता है। ऐसे में हार्ट स्ट्रोक या किडनी से जुड़ी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

कम सोने वाले हो जाएं सावधान, आपको हो सकती है यह दिमागी बीमारी

कम सोने वाले हो जाएं सावधान, आपको हो सकती है यह दिमागी बीमारी

नींद सही तरीके से नहीं होना इस बात का संकेत हो सकता है कि अन्य तरीके से स्वस्थ्य रहने वाले व्यक्ति को अल्जाइमर की बीमारी होने का खतरा हो सकता है।

यह जानकारी एक अध्ययन में सामने आयी है। अनुसंधानकर्ताओं को नींद की समस्याओं और रीढ़ की हड्डी के तरल द्रव में पाये जाने वाले अल्जाइमर रोग के जैविक संकेतक मार्कर के बीच एक कड़ी नजर आई।

अमेरिका में विस्कॉन्सिन-मैडिसन की बारबारा बी बेंडलिन ने बताया कि पूर्व में मिले साक्ष्य दर्शाते हैं कि नींद कई तरह से अल्जाइमर रोग के पनपने या विकसित होने का कारण बन सकती है।

पोहा को माना जाता है सबसे हेल्दी नाश्ता

पोहा को माना जाता है सबसे हेल्दी नाश्ता

शरीर को फिट रखने के लिए यह ज़रूरी है की आप डाइट में हेल्दी चीजें शामिल करें। चाहे नाश्ता हो या लंच या डिनर पूरे दिन आप जो भी खाएं तो ये जरुर ध्यान रखें की कहीं कोई ऐसे चीज तो नहीं खा रहे जो शरीर के लिए नुकसानदायक हो।

पूरे दिन की डाइट में सबसे ज्यादा महत्त्व ब्रेकफास्ट का होता है और इसलिए डॉक्टर यह सलाह देते हैं की नाश्ते में अधिक से अधिक हेल्दी चीजों को शामिल करें। पोहा एक ऐसी ही डिश है जो कई तरह से आपके लिए फायदेमंद है।

आइये जानते हैं की आखिर पोहा को सबसे पौष्टिक नाश्ता क्यों माना जाता है...

क्या डायबिटीज से मरीज भी पपीता खा सकते हैं?

क्या डायबिटीज से मरीज भी पपीता खा सकते हैं?

जब बात डायबिटीज़ की आती है तो कुछ भी मीठा खाना जोखिमभरा काम हो सकता है क्योंकि मीठा खाने से ब्लड शुगर लेवल अचानक बढ़ जाता है। इसी वजह से ज्यादातर डायबिटीज़ के मरीज़ नैचुरली स्वीट यानी प्राकृतिक रूप से मीठे फलों को भी नहीं खाते। लेकिन, ये गलत है।

कई एक्सपर्ट्स का यह कहना है कि डायबिटीज़ के मरीज़ों में इस बात को लेकर बहुत गलतफहमियां हैं कि कौन सा फल खाएं और कौन सा न खाएं। डायबिटीज़ के मरीज़, जिनकी शुगर कंट्रोल में हो, वो हर तरह के फल खा सकते हैं, लेकिन सीमित मात्रा में।

रेडवाइन और किचेन सामग्री के साथ बनाएं फेस मास्‍क

रेडवाइन और किचेन सामग्री के साथ बनाएं फेस मास्‍क

रेडवाइन फेस मास्‍क, त्‍वचा के लिए काफी अच्‍छा होता है और इसके रिजल्‍ट काफी अच्‍छे होते हैं।

कई लोगों को रेडवाइन फेसमास्‍क के बारे में पता होता है लेकिन इसे कैसे बनाया और इस्‍तेमाल किया जाता है, इस बारे में उन्‍हें पता नहीं होता है।

जानिए रेडवाइन फेसमास्‍क को कैसे बनाएं और इसे इस्‍तेमाल कैसे करें:

रेडवाइन मास्‍क बनाने के लिए आपको सिर्फ तीन किचेन सामग्रियां चाहिए होगी - रेड वाइन, शहद और दही। ये तीनों ही सामग्रियां बहुत आसानी से उपलब्‍ध हो जाती हैं।

Pages