सहजन की पत्तियों से बने बिस्कुट देंगे स्वाद और सेहत

स्वास्थ्य एवं पोषण संबंधित सभी प्रकार के प्रश्नों के लिए आप हमसे संपर्क  कर सकते हैं

स्वास्थ्य सम्बंधित समस्या के लिए फार्म भरें .

या 

WhatsApp No 6396209559  या

हमें फ़ोन काल करें 6396209559

 

इलाहाबाद: सहजन और इसकी पत्तियां सेहत के लिए स्वास्थ्यवर्धक हैं, लेकिन बच्चे ही नहीं कई बड़े भी इसके स्वाद के चलते इससे दूर भागते हैं। लेकिन अब दोनों ही सहजन को स्वाद लेकर खाएंगे, क्योंकि जल्द ही बाजार में सहजन की पत्तियों से बने बिस्कुट आएंगे, जो पौष्टिक ही नहीं स्वादिष्ट भी होंगे। ​(देश-विदेश की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें) सहजन की पत्तियों का इस्तेमाल कर इस बिस्कुट को द इंस्टीट्यूट ऑफ एप्लाइड सांसेज ने तैयार किया है। इंस्टीट्यूट का दावा है कि यह बिस्कुट बाजार में मौजूद बिस्कुट की अपेक्षा ज्यादा सेहतमंद और सस्ता होगा। हालांकि अभी इसके बाजार में आने में कुछ समय लगेगा क्योंकि इसे तैयार करने की विधि का पेटेंट होना बाकी है। इंस्टीट्यूट के सचिव डॉ. नीरज कुमार ने बताया कि औषधीय गुणों से भरपूर सहजन मल्टी विटामिन कैप्सूल से भी ज्यादा बेहतर होता है। उन्होंने बताया कि इंस्टीट्यूट ने बिस्कुट तैयार करने से पहले इलाहाबाद में लगे सहजन के पेड़ों की पत्तियों की इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की सेंटर ऑफ फूड टेक्नोलॉजी की लैब में जांच कराई थी। इसके बाद इसके औषधीय गुणों को समाहित करते हुए इंस्टीट्यूट ने जो बिस्कुट तैयार किया है उसकी पहले चरण की टेस्टिंग सफल रही। उन्होंने कहा,'' बिस्कुट में प्रचूर मात्रा में विटामिन, प्रोटीन, कैल्शियम, मिनरल और एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद हैं। इसे और गुणवत्तापूर्ण, पौष्टिक तथा स्वादिष्ट बनाने के लिए अभी आगे काम चल रहा है।" डॉ. कुमार ने बताया,'' केंद्र सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी से पौष्टिक खाद्य सामग्री बनाने के लिए इंस्टीट्यूट को 17 लाख रुपये का प्रोजेक्ट मिला है, जिसपर इंस्टीट्यूट की वैज्ञानिक प्रो. ए एफ रिजवी और प्रो. डी के चौहान के अलावा इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर भी काम कर रहे हैं।''