अजवाइन खाने से दूर होती है किडनी की स्‍टोन

  आपने अपने घरों की रसोईं में अनेकों प्रकार के मसाले देखे होगें। उन्‍हीं में से एक है अजवाइन जिसका नाम हर किसी ने सुना और देखा होगा। क्‍या आपको पता है यह केवल एक किस्‍म का मसाला ही नहीं बल्कि एक ऐसी औषधि भी है जिसके प्रयोग से आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर अच्‍छे प्रभाव पड सकते हैं। क्‍या आपको पता है कि इसके नियमित सेवन से किडनी में स्‍टोन की बीमारी भी ठीक हो सकती है। इसलिए आज हम आपको बताएगें की कसके खाने से आपको क्‍या फायदा हो सकता है। क्‍या हैं इसके फायदे-

घर में ही हो जाता है पथरी का इलाज

घर में ही हो जाता है पथरी का इलाज

किडनी में स्‍टोन यूरीन सिस्टम का एक रोग है जिसमें किडनी के अन्दर छोटे-छोटे पत्थर जैसी कठोर वस्तुएं बन जाती हैं. आमतौर पर यह ये पथरियां यूरीन के रास्ते शरीर से बाहर निकल जाती है. बहुत से ऐसे घरेलू उपाय है जिनको अपनाकर इनसे निजात पाई जा सकती है. आइए जाने ऐसे ही कुछ उपायों के बारे में.

दमा व श्वास का घरेलू उपचार

एक पका केला छिला लेकर चाकू से लम्बाई में चीरा लगाकर उसमें एक छोटा चम्मच दो ग्राम कपड़छान की हुई काली मिर्च भर दें । फिर उसे बगैर छीलेही, केले के वृक्ष के पत्ते में अच्छी तरह लपेट कर डोरे से बांध कर 2-3 घंटे रख दें । बाद में केले के पत्ते सहित उसे आग में इस प्रकार भूने की उपर का पत्ता जले । ठंडा होने पर केले का छिलका निकालकर केला खा लें ।प्रतिदिन सुबह में केले में काली मिर्च का चूर्ण भरें। और शाम को पकावें । 15-20 दिन में खूब लाभ होगा ।

 

स्टेम सेल की सहायता से जल्द ठीक होंगे’ स्ट्रोक के मरी़ज़

स्ट्रोक होने के बाद दिमाग में स्टेम सेल डालने से सेहत में सुधार की रफ़्तार बढ़ सकती है.

लंदन के इंपीरियल कॉलेज के वैज्ञानिकों ने इस पद्धति की सुरक्षा की जांच के लिए किए गए शुरुआती प्रयोग में स्ट्रोक का शिकार हुए पांच लोगों की अस्थि मज्जा (बोन मैरो) में ख़ास तरह के स्टेम सेल्स डाले.

हड्डियों की टी.बी से घबराने की जरूरत नहीं

स्पाइन सर्जन होने के बावजूद मैंने एक मरीज मिसेज अल्का शर्मा को जब यह बताया कि वह टी.बी. से पीड़ित हैं, तब वह पूरी तरह चौंक गयीं। इस पर उन्होंने मुझसे कहा कि क्या आप मजाक कर रहे हैं डाक्टर साहब? टी.बी. तो फेफडे़ से जुड़ी बीमारी है और आप रीढ़ की हड़िडयों के डॉक्टर हैं।

Pages