कम उम्र में सफेद हुए बालों को काला करे

कम उम्र में सफेद हुए बालों को काला करे

कम उम्र में बाल सफेद होना आजकल एक आम समस्या है। इस
समस्या के सबसे मुख्य कारण फास्ट लाइफ कल्चर में बालों
की ठीक से देखभाल न हो पाना और
प्रदूषण आदि हैं। ऐसे में कम उम्र में आई सफेदी को
छुपाने के लिए डाई करना या कलर करना ही एकमात्र
विकल्प नहीं है।कुछ घरेलू नुस्खे आजमा कर
भी सफेद बालों को काला किया जा सकता है। हम आपको
बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही सिंपल घरेलू फंडे जिनसे
आप कम उम्र में सफेद हुए बालों को फिर से काला बना सकते हैं।
1. तुरई को काटकर नारियल तेल में उबालें व जब तुरई
काली हो जाए, तब उसे छानकर किसी बोतल

निम्बू है कई बिमारियों का इलाज

निम्बू है कई बिमारियों का इलाज

नींबू : गुण में मीठा, स्वाद में खट्टा
* सुबह-शाम एक गिलास पानी में एक नींबू
निचोड़कर पीने से मोटापा दूर होता है।
* बवासीर (पाइल्स) में रक्त आता हो तो नींबू
की फांक में सेंधा नमक भरकर चूसने से
रक्तस्राव बंद हो जाता है।
* आधे नींबू का रस और दो चम्मच शहद मिलाकर
चाटने से तेज खाँसी, श्वास व जुकाम में लाभ
होता है।
* नींबू ज्ञान तंतुओं की उत्तेजना को शांत
करता है। इससे हृदय की अधिक धड़कन सामान्य
हो जाती है। उच्च रक्तचाप के रोगियों की
रक्तवाहिनियों को यह शक्ति देता है।
* एक नींबू के रस में तीन चम्मच शकर, दो चम्मच

कलयुग में संजीवनी है कलौंजी (मंगरैला)

कलौंजी एक फायदे अनेक :
कलौंजी का पौधा सौंफ के पौधे से थोड़ा छोटा होता है। इसके फूल हल्के नीले व पीले रंग के होते हैं और इसके आकार तारे के समान होते हैं। लगभग घरों में होते हुए भी आप इसके गुणों से अब तक अनजान है ..! पूरी तरह संतृप्त किए गए बीज में जिंदगी की अत्यधिक ताकत होती है। ब्लैक सीड यानी कलौंजी के सेवन से आपका भविष्य रोग मुक्त बनता है। कलौंजी को रोमन कोरिएंडर, ब्लैक सीसेम, ब्लैक क्यूमिन, ब्लैक कैरावे तथा अनियन सीड के नाम से भी जाना जाता है। इसका इस्तेमाल औषधि, मसाले तथा सौंदर्य प्रसाधनों के तौर पर किया जाता है।

कैसे करें इसका सेवन :

पैर के दर्द का घरेलू उपचार

पैर के दर्द का घरेलू उपचार

पैरों और टांगों में नसों का ऐंठना फूलना व सूजना - टांगों में ऐंठन - नस पर नस का चढ़ जाना - मांस-पेशियाँ में दर्द होना जैसे कि पिंडली में (टांग के पीछे) - माँस-पेशियों की ऐंठन :
कई लोगों को रात में सोते समय टांगों में एंठन की समस्या होती है। नस पर नस चढ़ जाती है। कई लोगों को टांगों और पिंडलियों में मीठा - 2 दर्द सा भी महसूस होता है। पैरों में दर्द के साथ ही जलन, सुन्न, झनझनाहट या सुई चुभने जैसा एहसास होता है।
ऐसा कई कारणों से होता है। कुछ दिन पहले मैने 'पैरों के तलवों में दर्द - कारण व् निवारण' विषय पर लिखा था।

मछली, मीट त्यागकर केवल पूर्ण शाकाहारी भोजन आपकी सर की रूसी दूर करने में सहायक होगा

मछली, मीट  त्यागकर केवल पूर्ण शाकाहारी भोजन आपकी सर की रूसी दूर करने में सहायक होगा

1. नारियल के तेल में निम्बू का रस पकाकर रोजाना सर की मालिश करें.

2. पानी में भीगी मूंग को पीसकर नहाते समय शेम्पू की जगह प्रयोग करें.

3. मूंग पावडर में दही मिक्स करके सर पर एक घंटा लगाकर धो दें.

4. रीठा पानी में मसलकर उससे सर धोएं.

5. मछली, मीट अर्थात nonveg त्यागकर केवल पूर्ण शाकाहारी भोजन का प्रयोग भी आपकी सर की रूसी दूर करने में सहायक होगा.

 

Pages